राख Raakh Song Lyrics in Hindi - Shubh Mangal Zyada Saavdhan

Raakh Song Lyrics in Hindi
Raakh Song Lyrics in Hindi 

राख Raakh Song Lyrics in Hindi For the film Shubh Mangal Zyada Saavdhan. the song is sung by Arijit singh. the song music by Tanishk Bagchi. the song lyrics written by Vayu.

Raakh Song Lyrics in Hindi


वो कहते है इश्क़ हद में करो
जो इश्क़ क्या है ना जाने
ये दिल तो अनपढ़ देहाती सा है
क्या कुछ लिखा है क्या जाने
बाहर से देखा जिन्होंने
अंदर चले क्या क्या जाने
हम जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में
आखरी लौ तक आस बचेगी
जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में
आखरी लौ तक आस बचेगी


चुप तो ना होगी मोहोबत
दुश्वारियों से डरा के
उम्मीद इसका लहू है
है दर्द इसकी खुराकें
जितनी जख्म और जुड़ेंगे
उतनी बढ़ेंगी ये शाखे
वो काट डाले हमे चाहे रोज
जिद जड़ में है क्या करे
एक प्यार एक जंग
दोनों के दोष
एक घर में है क्या करेंगे
एक दिल ही बोहोत है
किस किस की परवाह करेंगे

हम

जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में
आखरी लौ तक आस बचेगी
जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में

आखरी लौ तक आस बचेगी

Song Credits:
♫ Song: Raakh
♫ Singer: Arijit Singh
♫ Music - Tanishk - Vayu

♫ Lyrics - Vayu